BP NEWS CG
समाचार

बैगा बाहूल गांव पहुंची स्वास्थ्य जांच और पानी का परीक्षण करने प्रशासन की टीम  घर-घर पहुंच कर स्वास्थ्य परीक्षण , पानी का भी लिया सैम्पल 

कवर्धाकलेक्टर ने निर्देश पर आज स्वास्थ्य विभाग और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के प्रशासनिक एवं चिकित्सों की संयुक्त टीम ने पंडरिया विकासखण्ड के बैगा बाहूल ग्राम बिजौराटोला पहुंची। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव के घर-घर पहुंच कर सभी व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण किया। वहीं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों ने उस गांव के सार्वजनिक नलकूल एवं कुए का पानी का सैम्पल लिया है। मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुजॉय मुखर्जी ने बताया कि छीरपानी के आश्रित ग्राम बिजौराटोला का दौरा कर स्वास्थ्य सुविधा का जायजा लिया। स्वास्थ्य टीम के द्वारा घर घर जाकर सर्वे किया गया। सर्वे के दौरान बताया गया कि 21 घरों 112 लोग रहते हैं। यहां उल्टी दस्त के एक भी मरीज नहीं है। सर्वे के दौरान बताया गया कि भदली बाई, प्रेमसिंग, दुखु राम को कमजोरी थी, उन्हे जांच कर दवाई प्रदान की गई है। यहां किसी भी प्रकार के गंभीर बीमारी नहीं है, स्थिति सामान्य है। वनांचल के ग्रामों में बुधवार और गुरुवार को स्वास्थ्य शिविर लगाया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि छीरपानी के आश्रिम गांव बिजौराटोला में गत दिनों लाल सिंह बैगा की मुत्यु की सूचना मिली थी,साथ ही वहां के 8 अन्य लोगों की तबियत खराब होने की जानकारी मिली थी। कलेक्टर श्री महोबे ने इस सूचना को तत्काल संज्ञान में लिया। कलेक्टर ने निर्देश पर आज मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सूजॉय मुखर्जी, डीपीएम श्रीमती सृष्टि शर्मा ने संबंधित गांव का अवलोकन किया। वहां खण्ड चिकित्सा अधिकारी डॉ तिवारी एवं स्वास्थ्य की पूरी टीम द्वारा गांव में स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।

स्वास्थ्य अधिकारियों ने लाल सिंह बैगा के घर पहुंच कर वहां की पूरी घटना एवं मृतक की दिनचर्या की पूरी जानकारी ली। उनकी पत्नी श्रीमति सिंग्रो बाई बैगा ने बताया कि उनके पति का स्वास्थ्य पिछले महीने से खराब था तथा वह नशे के आदी थे। उनको भूख न लगना, पेट में सूजन, पाचन नहीं होना, हाथ पैर सूख गए, पेट में सूजन,पेट साफ नहीं होने की समस्या थी, स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दवाई दी गई थी जिसका सेवन कर रहे थे। पिछले पंद्रह दिनों से लगातार नशे में थे, जिसके कारण उनकी तबियत और खराब होता गया। जिस रात उनकी मृत्यु हुई उस रात अत्यधिक नशे में बिना खाए सो गए सुबह उनकी मृत्यु हो गई। उन्हें उल्टी दस्त की शिकायत नहीं थी।

मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कलेक्टर के निर्देश पर जिले के वनांचल क्षेत्रों में लगातार स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में विशेष शिविर लगाकर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। जिसमे प्रमुख रूप से पहुंचविहीन ग्राम डेंगूरजाम, कोटनापानी में 3 अक्टूबर, कांदावानी में 4 अक्टूबर, बसुलालुत, सेजाडीह में 6 अक्टूबर, तेलियापानी, अंजवाइनवाह, ,तीनगड्ढा में 7 अक्टूबर, मर्राडबरा, नागा डबरा में 8 अक्टूबर और छिंदीडीह, तेलियापनी में 12 अक्टूबर को शिविर लगाया गया था।  

 

 

इस माह स्वास्थ्य शिविर

 

 खण्ड चिकित्सा अधिकारी डॉ तिवारी ने बताया कि इस माह बैगा स्वास्थ्य शिविर 3 मई को छीरपानी, बिजौराटोल, महारानीतोला, 4 मई को डबरापानी, ठेंगाटोला, 10 मई को बांसटोला, डेंगुरजाम औ 11 मई को ग्राम बिरहुलडीह में आयोजित है। जिसमें जितेंद्र राते, सत्येंद्र लहरे, दिनेश मरावी, मुकेश बघेल, सुमत ध्रुव, अनिता मठले, चंद्रपाल बर्मन,सुरेखा, गजानंद कुंभकार की स्वास्थ्य शिविर में ड्यूटी लगाई गई है। पंडरिया बीएमओ डॉ. स्वप्निल तिवारी, डॉ. स्वप्निल साधू, सुपरवाइज छत्रपाल लहरे, मुकेश बघेल और स्वास्थ्य टीम के द्वारा शिविर लगाकर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जा रही है।

Related posts

कवर्धा में मनरेगा के कार्यों में नियमो का पालन नही , मजदूरों के बजाए मशीन का उपयोग

bpnewscg

पंडरिया वन परिक्षेत्र में भ्रष्टाचार:अर्दन डेम निर्माण कागजों में , अधूरा को पूर्ण बताकर राशि आहरण

bpnewscg

पंडरिया विधानसभा में 75.27 प्रतिशत और कवर्धा विधानसभा में 81.24 प्रतिशत मतदान

bpnewscg

Leave a Comment