BP NEWS CG
अन्यबड़ी खबरसमाचार

बेरोजगारी भत्ता एक छोटा सा सहयोग है, जिससे युवा प्राप्त कर सकेंगे अपना लक्ष्य- मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हितग्राहियों को बेरोजगारी भत्ते की दूसरी किश्त जारी की

कवर्धा, मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय रायपुर में आयोजित बेरोजगारी भत्ता योजना के तहत विडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से राज्य के 1 लाख 05 हजार हितग्राहियों के खाते में बेरोजगारी भत्ते की दूसरी किश्त की राशि अंतरित की। उन्होंने इसके अंतर्गत कबीरधाम जिले के 4 हजार 168 स्वीकृत हितग्राहियों के खाते में 2500 रूपए प्रति लाभार्थी की दर से 01 करोड़ 04 लाख 20 हजार रूपए अंतरित कर लाभान्वित किया। राज्य स्तरीय कार्यक्रम में जिले से विडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे, पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव, जिला रोजगार अधिकारी श्री प्रमोद जैन, कैबिनेट मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के निज सहायक श्री कीर्तन शुक्ला सहित बेरोजगारी भत्ता योजना के हितग्राही दुखीराम, विक्रम मंडावी, राकेश यादव, संतराम, चुम्मन मरकाम, बेदप्रसाद, अंजनी यादव, दीप्ती सोनी जुड़े रहे।
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने बेरोजगारी भत्ते की दूसरी किश्त जारी करते हुए युवाओं से कहा कि आपको बेरोजगारी भत्ते से सहायता मिल रही है, लेकिन मुझे बेरोजगारी भत्ता देने से ज्यादा खुशी तब होगी जब आपके हाथ में रोजगार होगा। सरकारी नौकरी के लिए हम लगातार वेकेंसी निकाल रहे हैं इसके साथ ही आपको कौशल प्रशिक्षण भी दे रहे हैं ताकि आप अपना काम भी शुरू कर सकें। बेरोजगारी भत्ता एक छोटा सा सहयोग भर है, जिसके माध्यम से आप अपना लक्ष्य प्राप्त कर सकें।
विडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने जानकारी देते हुए बताया कि बेरोजगारी भत्ता प्राप्त करने वाले हितग्राहियों को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। इसमें लाईवलीवुड कॉलेज के माध्यम से 90 हितग्राहियों को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। इसके अंतर्गत स्वींग मशीन ऑपरेटर, अस्टिंट इलेक्ट्रिशियन और फिल्ड टेक्निशियन अदर होम एप्लायंस में 30-30 प्रशिक्षार्थी को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने बेरोजगारी भत्ता योजना के हितग्राहियों से चर्चा भी की। उन्होंने हितग्राहियों से बेरोजगारी भत्ता के लाभ और उपयोग की जानकारी ली। अंजनी यादव ने बताया कि वह लाईवलीवुड कॉलेज में सिलाई मशीन का प्रशिक्षण ले रही है साथ में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा कि बेराजगारी भत्ता मिलने से प्रतियोगी परीक्षा में उपयोग होने वाली पुस्तके, नोट्स खरीदने में सहायता मिलेगी। इसके लिए घर से पैसे मंगने की जरूरत नहीं पड़ती। विक्रम मंडावी ने बताया कि वह इलेक्ट्रिशियन में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहा है और स्वयं का रोजगार प्रारंभ करना चाहता है।
छत्तीसगढ़ आज देश में न्यूनतम बेरोजगारी दर वाला राज्य है-मुख्यमंत्री श्री बघेल
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार युवाओं को कौशल प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है ताकि वे स्वरोजगार और रोजगार के लिए तैयार हो सकें। रीपा में छोटे-छोटे कुटीर उद्योगों के जरिए रोजगार के साधन उपलब्ध कराएं जा रहे हैं। रोजगार और स्व-रोजगार के अवसरों के अधिक से अधिक अवसर पैदा करने सुराजी गांव योजना, गोधन न्याय योजना, रीपा योजना, कृषि और वन आधारित उद्योगों की स्थापना, कृषि और वनोपजों का प्रसंस्करण और वैल्यू एडीशन, सी-मार्ट की स्थापना, रोजगारोन्मुखी स्कूली शिक्षा की शुरुआत जैसे अनेक कदम राज्य सरकार द्वारा उठाए गए हैं। इन प्रयासों से छत्तीसगढ़ आज देश में न्यूनतम बेरोजगारी दर वाला राज्य है, हमारी कोशिश है कि छत्तीसगढ़ की यह पहचान आगे भी बनी रहे।

Related posts

वनांचल के गौठानों का हाल बेहाल – अशोक साहू

bpnewscg

कबीरधाम हुआ गौरवान्वित , दिल्ली में पृथ्वी अवार्ड से सम्मानित हुआ कबीरधाम जिले के जय बूढ़ा देव स्व-सहायता समूह

bpnewscg

नाबालिक बालिका के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपीको पुलिस ने किया गिरफ्तार ,भेजा जेल पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज

bpnewscg

Leave a Comment