BP NEWS CG
अन्य

बोडला के छूही में लाखो की लागत से बना शेग्रीगेशन सेड कुछ दिन में हुई क्षतिग्रस्त जिम्मेदारों के जिम्मेदारी पर उठ रहे सवाल

कवर्धा , मनरेगा और स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) योजना के तहत गांव के परिवेश को स्वच्छ और साफ सुथरा बनाने की कवायद शुरू हो गई है। जिसके तहत ग्राम पंचायतों में इसका कार्य जोर-शोर से चल रहा है। घर-घर से कचरा कलेक्शन करने के पश्चात उन सभी कचरों को एकत्रित और अलग-अलग करने के लिये पृथक्करण शेड का निर्माण कार्य किया जा रहा है। जिससे गांव की गली साफ सुथरा रहे और लोग बीमारियों से दूर रहे लेकिन जिला पंचायत सदस्य एवम वरिष्ठ कांग्रेस नेता मुखीराम मरकाम के गांव में इसका धज्जियां उड़ाते हुए घटिया निर्माण को अंजाम दिया गया है । जिम्मेदार अधिकारियों को वरिष्ठ नेता और मंत्री मोहम्मद अकबर के करीबी व्यक्ति का जरा भी डर भय नही है । बोड़ला विकासखंड के ग्राम पंचायत छुही में निर्माण के कुछ ही दिन में उक्त निर्माण की गुणवत्ता का पोल खोल दिया । जो किसी की नजर में दिखाई नही देता

लाखो की लागत से बना सेड का जर्जर

नागरिक सूचना पटल में निर्माण कार्य से संबंधित जानकारी लिखा रहता है जिसमे लिखा है कि गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम छत्तीसगढ़ जिला कबीरधाम , ग्राम छुही, ग्राम पंचायत, छुही, वि. ख. बोड़ला , कार्य का नाम- शेग्रीगेशन शेड निर्माण कार्य , कार्य का यूनिक कोड 3302002005/pv/1111449647 कार्य का प्रशा. स्वी. राशिक/दि. 558/30/08/20122 , कार्य का आकार (क्षेत्रफल | लंबाई एवं इकाई ,. कार्य का प्रारंभ तिथि- 09/02/2022 पूर्णता तिथि – 18/01/2023 कार्य में श्रमिक लागत रु. 0.470 सामाग्री. 1.770 S.B.M. मानव दिवसों की संख्या ः प्रावधानित- 230 सृजित. 230 श्रमिक दर प्रति दिवस. 204/- कार्य ऐजेंसी का नाम- ग्राम पंचायत-छुट्टी
तकनीकी सहायक का नाम , मो.नं. पवन चन्द्रवंशी ,लोकपाल का नाम / मो. न. संजय श्रीवास्तव, सामाजिक अंकेक्षण इकाई के अधि का नाम रामायण वर्मा . टोल फ्री नं. 18002333302 (जिला ) 18002332425 (राज्य) उक्त पटल के अनुसार इसका निर्माण जनवरी में पूर्ण हुआ लेकिन फरवरी में ही ऊपर लगा टीन उड़ गया ।

निर्माण में गुणवत्ता दरकिनार

शेग्रीगेशन सेड निर्माण को देखने से ही पता चलता है कि उक्त निर्माण कार्य में कितना गुणवत्ता पूर्ण कार्य किया गया होगा । यदि कार्य में गुणवत्ता का ध्यान रखा जाता तो निर्माण के कुछ ही दिनों बाद ऊपर लगे टीन सेड उड़ नही पता ।

जिम्मेदारों की जिम्मेदारी पर सवाल

जिला पंचायत सदस्य तथा मंत्री मोहम्मद अकबर के सबसे करीबी मुखिराम मरकाम के गृह ग्राम मो जो निर्माण कार्य हुआ है उसे देखने से ही जिम्मेदार अधिकारी के जिम्मेदारी समझ आ जाता है ज्ञात हो कि कोई भी निर्माण कार्य प्रारंभ करने के पूर्व निर्माण से संबंधित संपूर्ण व्यवस्था देखा जाता है जिसमे स्थल चयन , लोगो की उपयोगिता,निर्माण सामग्री का ध्यान दिया जाता है । निर्माण एजेंसी कार्य प्रारंभ करने के पूर्व तकनीकी सहायक के द्वारा स्थल चयन कर ले आउट दिया जाता है और प्राकलन के अनुरूप कार्य करने के निर्देश दिया जाता है । निर्माण कार्य के दौरान उपयोग होने वाले सामग्रियों का गुणवत्ता का मूल्यांकन भी किया जाता है । जिससे निर्माण कार्य गुणवत्ता पूर्ण बने ।

घर बैठे मूल्यांकन ,सत्यापन

बोडला विकासखंड अपने आप में ही मशहूर है यहां पदस्थ ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अनुविभागीय अधिकारी के कारनामे ही अलग है । ग्राम पंचायत चिखली में नदी में बनाए गए रिटर्निंग वाल पहली बरसात में ही टूट गया वैसी ही ग्राम पंचायत छुही के पृथक्करण सेड का है जिसका निर्माण जनवरी माह में पूर्ण होता है और फरवरी में ही क्षति ग्रस्त हो जाता है । तकनीकी सहायक यदि निर्माण के दौरान नियमित निरीक्षण करते तो आज सरकारी राशि का दुरुपयोग नही होता ।

Related posts

मंत्री ने मितानीन दीदियों के कार्यों की सराहना की , जनसंवाद और सम्मेलन कार्यक्रम में हुए शामिल

bpnewscg

भाजपा के लिए कवर्धा आसान नही बावजूद दावेदारों की लंबी कतार

bpnewscg

वनांचल के गौठानों का हाल बेहाल – अशोक साहू

bpnewscg

Leave a Comment