BP NEWS CG
समाचार

बिना सूचना के बैठक में अनुपस्थित पीडब्ल्यूडी विभाग अधिकारी और नगर सेना सेनानी को शोकॉज नोटिस जारी

 

कवर्धा, कलेक्टर ने आज सोमवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक लेकर विभागवार लंबित आवेदनों की समीक्षा की। कलेक्टर ने बैठक में शासन स्तर से प्राप्त सर्वप्राथमिकता वाले महत्वपूर्ण आदेश, निर्देश, प्रतिवेदन, मुख्यमंत्री जन चौपाल, माननीय मंत्रियों से प्राप्त आवेदन एवं कलेक्टर जनदर्शन में प्राप्त लंबित आवेदनों के विभागवार समीक्षा की। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को समय-सीमा में लंबित आवेदनों का गंभीरता से निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने समय-सीमा की बैठक में लंबित प्रकरणों के अलावा राज्य शासन की महत्वपूर्ण योजना मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान योजना गरम भोजन वितरण, समाजिक आर्थिक सर्वेक्षण, बेरोजगारी भत्ता, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल, गोधन न्याय योजना, मनरेगा, रीपा, जल-जीवन मिशन, जल शक्ति अभियान, कोविड नियंत्रण, एथनॉल प्लांट, आश्रम-छात्रावास संधारण कार्य, विशेष पिछड़ी जनजाति के लिए आयोजित हेल्थ कैंप की प्रगति की समीक्षा कर संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए।

कलेक्टर ने बैठक में गर्मी के मौसम में पेयजल की व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए हैंडपंपों के संधारण करने के निर्देश कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को दिए। कलेक्टर श्री महोबे ने सभी विभागों को रीपा में उत्पादित सामाग्रियों का ब्रांडिंग, मार्केटिंग और क्रय करने कहा। कलेक्टर ने आर्थिक सर्वेक्षण के कार्य को तेज गति से करने के निर्देश दिए। उन्होंने बिना सूचना दिए बैठक में अनुपस्थित पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारी और जिला सेनानी को शो कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि वनांचल क्षे़त्रों में आम नागरिकों को पेयजल की समस्या से निजात दिलाने के लिए हर संभव प्रयास कर इस समस्या का निराकरण करें। उन्होंने कृषि विभाग के उपसंचालक से गोबर खरीदी, वर्मी कम्पोस्ट का निर्माण, आने वाले खरीफ सीजन के मद्देनजर खाद एवं बीज की पर्याप्त उपलब्धता की जानकारी ली। कलेक्टर ने जिले के बेरोजगार छात्र-छात्राओं को लाभन्वित करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर इंद्रजीत बर्मन, जिला पंचायत सीईओ संदीप कुमार अग्रवाल, अनुविभागीय अधिकारी कवर्धा श्री पी.सी. कोरी, पंडरिया-श्री दिलेराम डाहिरे, बोड़ला-श्री संदीप ठाकुर सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तर के अधिकारी, नगरीय निकाय के सीएमओ उपस्थित थे।

 

“पुट बारो सेरी बाढन“ अभिनव पहल का प्रचार-प्रसार कर जागरूक करें-कलेक्टर”

 

बैठक में कलेक्टर ने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत जिले के सुदूर वनांचल क्षेत्र के छुटे हुए पारा, मोहल्ले और मजरा टोले के बच्चो, गर्भवती व शिशुवती माताओं को उनके स्थान पर गरम पका पोषण आहार देने की इस अभिनव पहल का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कर जागरूक करने कहा। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्रो में सुपोषण अभियान के मैनू का पालन करते हुए बच्चों को निर्धारित समय के बीच नास्ता और गरम पका भोजन चांवल, दाल, सब्जी और रोटी देने के निर्देश दिए। उन्होंने आंगनबाड़ी के बच्चों को हाथ धुलाई और स्वच्छता के प्रति प्रेरित करने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान को जिले में और प्रभावशाली बनाया गया है। इस अभियान को विस्तारित करते हुए जिले के विशेष पिछड़ी बैगा जनजाति एवं आदिवासी बाहूल बोड़ला एवं पंडरिया विकासखंड के पारा, मोहल्ले और मजरा टोले के आंगनबाड़ी के बच्चो, गर्भवती व शिशुवती माताओं को उनके स्थान पर गरम पका पोषण आहार दिया जा रहा है। जिसमें तीन वर्ष से छः वर्ष के आंगनबाड़ी के बच्चों को नास्ता एवं गरम पका भोजन, 1 से 3 वर्ष के कुपोषित बच्चों को अतिरिक्त पोषण आहार एवं गरम पका भोजन एवं ऐसे गर्भवती एवं एनिमिक महिलांए जो आंगनबाड़ी नहीं जा पाती ऐसे महिलाओं का चयन कर उनके पारा, मोहल्ले और मजरा टोले में ही अतिरिक्त पोषण आहार एवं गरम पका भोजन दिया जा रहा है।

 

रीपा से उत्पादित सामाग्री का करें क्रय

 

समय सीमा बैठक के दौरान कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने विभागीय अधिकारियों से रीपा से उत्पादित सामाग्री खरीदने के निर्देश दिए। जिसमें मुख्य रूप से स्कूल, छात्रावास, आंगनबाड़ी केन्द्रों के उपयोग में आने वाली सामाग्री रीपा से ही खरीदी की जाए ताकि स्व-सहायाता समूह के आमदनी में इजाफा हो। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी, स्कूल के मध्यान्ह भोजन में रीपा से निर्मित खाद्य पदार्थो का अधिक से अधिक उपयोग करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने राशन दुकानों में रीपा से निर्मित सभी समानों का विक्रय करने के निर्देश दिए।

 

कलेक्टर ने लू से बचने आवश्यक तैयारियां करने के दिए निर्देश

 

कलेक्टर श्री महोबे ने जिले के सभी नगरीय निकायों में तथा जिले के सभी प्रमुख मार्गो में आमजनों की सुविधा के लिए प्याउ घर की सुविधा देने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने ग्रीष्म ऋतु से होने वाले लू के बचाव के लिए जिला में जागरूकता लाने के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने लू से बचने और ग्रीष्म ऋतु में होने वाले जलजनित अन्य बीमारियों के रोकथाम के लिए आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने जिले के सभी ग्रामीण शासकीय चिकित्सालयों में पर्याप्त मात्रा में लू से बचाने के लिए उपयोगी दवाईयां एवं ओआरएस के पाउडर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने लू से बचने संबंधित ग्रामों में कोटवारों के माध्यम से मूनादी करने के भी निर्देश दिए है

Related posts

कबीरधाम के चौपटियो में बिक रहा अमानक सामग्रियां , 64 खाद्य नमूने में 04 अमानक

bpnewscg

फूड पॉयजनिंग से जिलेवासी रहे सतर्क, स्वास्थ विभाग ने जारी की अपील

bpnewscg

नेशनल लोक अदालत मे 700 से अधिक प्रकरणों का किया गया निराकरण नेशनल लोक अदालत का सफलतापूर्वक आयोजन

bpnewscg

Leave a Comment