BP NEWS CG
कवर्धाबड़ी खबरसमाचारसिटी न्यूज़

छत्तीसगढ़ के चिन्हारी का हाल बे हाल, गोठान से गायब मूलभूत सुविधाएं

कवर्धा , छत्तीसगढ़ सरकार के चार चिनहरी का कबीरधाम जिला में हाल बे हाल है। बोडला विकासखंड के ग्राम पंचायत छपरी के गौठान का स्थिति बद से बत्तर हो गया है । गौठान में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं है। नलकूप बंद , खाद बनाने के टंकी पर बड़े बड़े घास और पेड़ उग गए । गौठान में गाय के बजाए मदिरा प्रेमी के अलावा आसामाजिक लोगो का जमावड़ा लगा रहता है । गौठान में मवेशियों के लिए पैरा भी नही है जिसके चलते और वहा की स्थिति को देखते हुए ऐसा महसूस होता है कि आज तक वहा एक भी दिन गाय नही रहता है ।
खाद टंकी पर उगे घास और पेड़
ग्राम पंचायत छपरी के गौठान में जैविक खाद तैयार करने के लिए टंकी बनाया गया है ।टंकी का उपयोग नही होने के कारण उसमे बड़े बड़े घास और पेड़ उग आई है। जिसको देखने से पता चलता है कि यहां पर कोई खाद नही बनाया जाता और गौठान समिति के द्वारा फर्जी तरीके से संचालित कर सरकार के द्वारा जारी राशि का सदुपयोग के बजाए दुरुपोग किया का रहा है । जो चर्चा का विषय बना हुआ है ।
नलकूप बंद
बोडला विकासखंड के भोरमदेव मंदिर के ठीक पहले ग्राम पंचायत छपरी है। जहां पर छत्तीसगढ़ सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट योजना के तहत गौठान का निर्माण किया गया है। गौठान में गौ माताओं के शुद्ध पानी पीने के लिए नलकूप खनन कर मोटर पंप लगाया गया है। जो पता नही कब से बंद है । जहा पर पानी सहित अन्य किसी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध नहीं हैं । जो देखने से साफ साफ दिखाई दे रहा है। पशुओं को शुद्ध पेयजल के लिए कोटना का निर्माण किया गया है जिसकी स्थिति भी दयनीय स्थिति में है ।
खाद की जगह मिट्टी पत्थर
छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा प्रदेश के सभी गौठान में पशुपलको से दो रुपए प्रति किलो की दर से गोबर की खरीदी करते हुए उसे जैविक खाद तैयार कर किसानों को दस रुपए की दर से उपलब्ध कराए जाने की योजना है । छपरी के गौठान में पशुपालक से खरीदी की गई गोबर को जैविक खाद बनाने वाले टैक में खाद की जगह मिट्टी और पत्थर के टुकड़े दिखाई देता है। जिससे साबित होता है कि यहां के गौठान में खाद की फर्जी आंकड़ा तैयार किया जा रहा है ।
जांच की आवश्यकता
कबीरधाम जिला की सभी गैठानो की हाल बे हाल है । ग्राम पंचायत छपरी के गौठान के लिए शासन से प्रदान की गई राशि और उसके उपयोगिता की सूक्ष्मता से जांच करने से कई प्रकार की खामियां उजागर होगा साथ ही जिम्मेदारों की लापरवाही बरतने की संभावना से इंकार नही किया जा सकता । गौठान समिति सहित गौ माता और किसानों को उपलब्ध कराई जाने वाले जैविक खाद तैयार करने में लगे जिम्मेदारों के ऊपर कार्यवाही करने की संभावनाओं से इंकार नही किया जा सकता ।

 

Related posts

दिशा समिति के माध्यम से लोक क्षेत्र की समस्याओं से रूबरू होकर उन्हें बेहतर तरीके से दूर करने कार्य करे-सांसद श्री संतोष पाण्डेय सांसद श्री संतोष पाण्डेय की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति ”दिशा” की बैठक आयोजित

bpnewscg

साहू समाज का तहसील स्तरीय होली मिलन समरोह सम्पन्न हुआ 

bpnewscg

अंतरिम बजट 2024, आत्मनिर्भर भारत की समृद्धि का संकल्प है : भावना बोहरा

bpnewscg

Leave a Comment