BP NEWS CG
सिटी न्यूज़

श्री रूद्र महायज्ञ, श्रीमद्भागवत ज्ञान सप्ताह, श्री रामकथा व स्वामी रामदेव योग शिविर 7 से शंकराचार्य, रामदेव बाबा सहित पांच प्रख्यात होंगे शामिल

कवर्धा। धर्मनगरी कवर्धा में 7 से 15 मई तक होने वाले श्री रूद्र महायज्ञ, श्रीमद्भागवत ज्ञान सप्ताह, श्री रामकथा और स्वामी रामदेव बाबा के सान्निध्य में विशाल योग शिविर की तैयारी को अंतिम रूप दिया जा रहा है। गांव गांव और हर घर से हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं के आयोजन में सहभागिता सुनिश्चित करने कार्ययोजना बनाई गई है।

कार्यक्रम के आयोजक एवं पतंजलि किसान सेवा समिति के राज्य प्रभारी गणेश तिवारी ने श्रीगणेशपुरम, मारुति शो रूम के पीछे, बिलासपुर रोड कवर्धा में आयोजित प्रेस वार्ता में उक्त बातें कही। उन्होने कहा कि इस विशाल धार्मिक अनुष्ठान को जन जन तक पहुंचाने में आप सबका भरपूर सहयोग मिल रहा है और आगे भी मिलते रहने की अपेक्षा रखता हूं। उन्होने बताया कि ज्योतिष पीठाधीश्वर जगतगुरू शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती 1008, स्वामी रामस्वरूपाचार्य जी महाराज चित्रकूट, योगगुरू स्वामी रामदेव बाबा जैसे पांच संतों का पदार्पण होगा। उनकी अमृत वाणी और बहुमूल्य विचार क्षेत्रवासियों को सुनने मिलेगा। आयोजन की शुरूआत 7 मई को विशाल कलश यात्रा के साथ होगी। यह कलश यात्रा श्री जानकीरमण देवालय से सुबह 8 बजे प्रारंभ होगी और यूनियन चौक, स्वामी करपात्री चौक, शीतला चौक, ऋषभ देव चौक, ठाकुर पारा, मिनीमाता चौक होती हुई 11 बजे आयोजन स्थल श्रीगणेश पुरम मारूति शोरूम के पीछे बिलासपुर रोड पहुंचकर संपन्न होगी।
योग गुरू बाबा रामदेव के प्रिय शिष्य स्वामी नरेंद्र देव ने कहा कि यह आदि योग गुरू भगवान शिव की नगरी है, जो भोरमदेव में प्राचीनकाल से विराजमान है। यहां अभी तक का सबसे बड़ा धार्मिक अनुष्ठान श्री रूद्र महायज्ञ, श्रीमद्भागवत ज्ञान सप्ताह, श्री रामकथा और स्वामी रामदेव बाबा के सान्निध्य में विशाल योग शिविर चार आयोजन एक साथ हो रहा है। स्वामी रामदेव 12 मई की शाम यहां पहुंच जाएंगे और 13, 14, 15 मई की सुबह 5 बजे से लोगों को योग सिखाएंगे। स्वामी रामदेव के सपनों को साकार करने के उद्देश्य से गांव गांव और घर घर योग को पहुंचाने के लिए पतंजलि समिति व्यापक स्तर पर कार्य कर रही है और अभी तक एक लाख से अधिक पत्रक कवर्धा जिला और छग के कोने कोने में पहुंचाया जा चुका है। ऐसा कोई जिला नहीं है, जहां आयोजन का पत्रक न पहुंचा हो। आयोजन की शुरूवात में 11000 कलशों के साथ शोभायात्रा निकाली जाएगी। यह एक विश्व रिकार्ड होगा। इससे पहले 2700 कलश यात्रा निकाली गई है।
स्वामी नरेंद्र ने कहा कि साधुनाम दर्शनम पुण्यम। इस विशाल आयोजन में अनेक साधु सिद्धपुरूष पहुंच रहे हैं। उनके दर्शन से ही पुण्य मिलता है। अतः कोई भी परिवार उनके दर्शन से वंचित न रहे। यहां आने के बाद सुबह ब्रेक फास्ट से लेकर दोनों समय भोजन व पंडाल में 10 हजार लोगों के सोने की व्यवस्था की गई है। इस अनुष्ठान का लाभ अवश्य लें।

कार्यक्रम के अंत में पतंजलि सेवा समिति के जिलाध्यक्ष सुरेश चंद्रवंशी ने आभार व्यक्त किया। उन्होने बताया कि गांव गांव और घर घर योग को पहुंचाने का कार्य तेजी के साथ किया जा रहा है।
हरिद्वार से आए परम पूज्य स्वामी नरेंद्र देव महाराज, पतंजलि किसान सेवा समिति के प्रांत प्रभारी गणेश तिवारी,पतंजलि योग समिति जिला कबीरधाम जिला प्रभारी सुरेश चंद्रवंशी, तहसील प्रभारी लीलाराम साहू दुर्गेश ठाकुर,बसन्त नामदेव, चंद्रप्रकाश चंद्रवंशी प्रेस वार्ता में मौजूद रहे।

Related posts

नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार , भेजा जेल  धारा 376 ( 2 ) n भा.द.वि. 04,06 पास्को एक्ट पंजीबद्ध 

bpnewscg

आखिर मनरेगा सिस्टम में कब आएगा सुधार ,कबीरधाम में हाल बेहाल जिम्मेदारों की भूमिका संदेह के दायरे में

bpnewscg

नाबालिक बालिका के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपीको पुलिस ने किया गिरफ्तार ,भेजा जेल पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज

bpnewscg

Leave a Comment