BP NEWS CG
अन्य

राजधानी , राजमहल और शहर से कवर्धा विधानसभा उम्मीदवार , जनता किसे करेगी पसंद 

कवर्धा , छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की तिथियां कुछ दिन में ही घोषित होने को है । सभी राजनैतिक पार्टी अपने अपने उम्मीदवार को चुनाव मैदान में उतारने के लिए प्रत्याशी घोषित करने में लगे हुए है । आम आदमी पार्टी ने लोहारा रियासत के राजा खड़ग राज सिंह, कांग्रेस ने तत्कालीन मंत्री , विधायक मोहम्मद अकबर को मैदान में उतार सकता है जो राजधानी रायपुर के मौदहापारा और सरकारी आबंटित आवास शंकर नगर से कार्यों का संचालन करते है वही कुछ दिन पूर्व वायरल सूची में भाजपा से कवर्धा शहर निवासी विजय शर्मा का नाम संभावित है साथ ही बहुजन समाज पार्टी, गोडवाना गणतंत्र पार्टी , छत्तीसगढ स्वाभिमान मंच सहित निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनाव मैदान में उतर सकते है लेकिन छत्तीसगढ़ में मुख्य रूप से भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्टी के बीच ही मुकाबला दिखाई देता है । विधानसभा चुनाव में कवर्धा 72 के मतदाता राजधानी रायपुर निवासी अकबर भाई को पुनः मौका देते है या लोहारा रियासत के राजा खड़ग राज सिंह को ताज पहनाने की संभावना होगी या जिला मुख्यालय कवर्धा शहर के लोकल निवासी विजय शर्मा पर उम्मीद करते है ये तो आने वाले समय में ही तय हो जाएगा ।
रायपुर मुख्यालय से करते है क्षेत्र भ्रमण
रायपुर मौदहापारा निवासी मो अकबर भाई ने पांच वर्षो में एक भी दिन कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के कोई भी गांव में रात्रि विश्राम नही किया । राष्ट्रीय पर्व में ध्वजारोहण करने भी रायपुर से ही आना जाना करते है हालांकि निर्धारित समय पर पहुंचकर सभी कार्य संपन्न करते है और सप्ताह में लगभग तीन दिन कवर्धा विधानसभा के गावो के भ्रमण करते है ऐसा नही कि एक दिन में एक दो कार्यक्रम आयोजित कर रहे हो बल्कि आठ से दस गावो में जाकर लोगो के बीच में मेल मुलाकात करते हुए लोगो की हुलिया का जानकारी लेकर अवगत होते है और उसके निराकरण करने में कोई कसर नहीं छोड़ते । लोगो को दिक्कत तब होता है जब अपनी समस्याओं और मांग को लेकर क्षेत्र में मंत्री जी मुलाकात करते है तो कुछ चिन्हांकित चेहरे से घिरे होते है जिसके चलते छोटे तबके के लोग अपनी मांग और समस्याओं को चिन्हाकित चेहरे के सामने अवगत कराने में हिचकते है । अपनी मांग और आवश्यकताओं के लिए मंत्री जी से मिलने शंकर नगर रायपुर जाने पर भी चिन्हांकित चेहरे वहा भी मौजूद रहते है । मंत्री जी दिन भर प्रवास में रहते है और प्रवास से वापस शंकर नगर आते है तो वहा मौजूद फरियादियों से मिलकर उनसे रु बा रु होते है । मंत्री जी जब तक वहा मौजूद एक एक व्यक्ति से मिलने के बाद ही अपने निज निवास जाते है । लोगो को दिक्कत तब होता है मंत्री से अपनी फरियाद लेकर शंकर नगर आने जाने के लिए किराया का वाहन लेकर जाना होता है । जो अतरिक्त भार पड़ता है ।मंत्री जी सभी वर्गो के आवश्यताओ को ध्यान में रखते हुए पूरा करने में कोई कसर नही छोड़ रहे है ।
राजमहल में प्रवेश दिक्कत तो नही
लोहारा रियासत के राजा खड़ग राज सिंह ने पूर्व में नगर पंचायत अध्यक्ष थे और वर्तमान में आरक्षण के चलते अध्यक्ष नही बन पाए । मतदाताओं और समाज में पैठ अच्छा है जिसके चलते उन्हें आम आदमी पार्टी ने भरोसा करते हुए अपना उम्मीदवार घोषित किया है । राजसी ठाठ बाट रहने वाले खड़ग राज आम आदमी की तरह व्यवहार करते है । खैर जो व्यक्ति राजनीति में कदम रखते है वो लोगो के बीच में रहना ही पसंद करते है । खड़ग राज सिंह राजा के अलावा आदिवासी समाज के अध्यक्ष भी रहे है। समाज की मांगों के अनुरूप अपनी पुस्तैनी जमीन को मंदिर और सामाजिक भवन के लिए कबीर पंथ , मरार समाज , आदिवासी समाज के अलावा अन्य समुदाय को दान में भी दिए है जिसके चलते मतदाता उन्हें पसंद कर सकता है । बावजूद राजमहल में प्रवेश करने वाले लोग ही जानने है कितना आसान है की तकलीफ ।
भाजपा से विजय शर्मा संभावित
कवर्धा शहर निवासी विजय शर्मा का काम करने का अंदाज कुछ अलग ही है । विजय शर्मा लोगो के दिल में बसे रहते हैं । वर्तमान में जिला पंचायत सभापति के अलावा भारतीय जनता पार्टी प्रदेश महामंत्री के पद पर कार्यरत हैं । विजय शर्मा कवर्धा विधानसभा क्षेत्र से सभी उम्मीदवारों पर भारी पड़ने की संभावना से कोई इंकार नही किया जा सकता । विजय शर्मा सभी वर्गो के लिए लड़ाई लड़ते है और हमेशा तत्पर रहते हैं।
कवर्धा विधानसभा क्षेत्र 72 सामान्य सीट वर्ग के लिए आरक्षित है जिसके चलते विधानसभा पहुंचने के लिए वनांचल की सड़के , पेयजल , आवास सहित अन्य दिक्कत और समस्याओं को पार करते हुए कौन सफल होते है ये आने वाले समय में ही पता चलेगा । कवर्धा की राजनीति में जाति वाद हावी है। इन सभी को साधने में काफी दिक्कत है।

 

 

 

 

Related posts

315 प्रधान पाठकों ने लिया शत प्रतिशत मतदान का संकल्प

bpnewscg

वनमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र में 20 रुपये के बीज को 10 में बेचने मजबूर वनवासी जागरूकता की कमी 

bpnewscg

पंडरिया विधानसभा चुनाव के संभावित उम्मीदवार बिशेसर पटेल का जानिए राजनैतिक सफर

bpnewscg

Leave a Comment