BP NEWS CG
अन्य

पंडरिया विधानसभा से कौन होगा कांग्रेस प्रत्याशी  भाजपा प्रत्याशी को लेकर सस्पेंस बरकरार

कालू सलूजा पांडातराई , विधानसभा चुनाव की रणभेरी बजने के साथ ही पूरे क्षेत्र में चुनावी सर गर्मी परवान चढ़ने लगी है छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का एलान निर्वाचन आयोग द्वारा कर दिया गया है पंडरिया विधानसभा का राजनीतिक पारा दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है पिछले सप्ताह सोशल मीडिया में वायरल सूची के अनुसार भाजपा से विशेश्वर पटेल का टिकट लगभग तय माना जा रहा था सोमवार को भाजपा ने अपनी दुसरी लिस्ट जारी किया जिसमें पंडरिया , बेमेतरा, कसडोल, बेलतरा सहित पांच विधानसभा को छोड़कर प्रदेश के 64 प्रत्याशियों के नाम की घोषणा की गई है मुख्यबात यह है कि कवर्धा जिले की पंडरिया विधानसभा सीट पर भाजपा ने प्रत्याशी का नाम घोषित नहीं किया अब भाजपा के दावेदारों को तीसरी सुची का इंतजार है टिकट और सूची को लेकर अंचल में गर्माहट का माहौल है वही दावेदारों के बीच बेचैनी का आलम है पार्टी में काम कर रहे नेता और कार्यकर्ता के बीच में अटकलों का दौर भी चल रहा है यह तब तक चलता रहेगा जब तक नाम का अंतिम रुप से एलान नहीं हो जाता वही कांग्रेस की टिकट का बेसब्री से इंतजार होने लगा है कांग्रेस ने अब तक विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम फाइनल नहीं किए हैं राजनीतिक गलियांरो में कई लोगों के नाम की चर्चा है टिकट को लेकर सस्पेंस बरकरार है चुनावी चर्चा चौक चौराहा में हो रही है पंडरिया विधानसभा के लिए 50 से अधिक लोगों ने टिकट के लिए दावेदारी की है इनमें से सबसे प्रबल दावेदार विधायक ममता चंद्राकर को माना जा रहा है इसके अलावा महेश चंद्रवंशी , अर्जुन तिवारी नीलकंठ चंद्रवंशी के नामों की प्रमुखता से चर्चा हो रही है अब देखना यह होगा कि कांग्रेस वर्तमान विधायक ममता चंद्राकर पर अपना विश्वास जताती है या नया चेहरा को मौका देती है विधायक ममता चंद्राकर के लिए भी टिकट का संघर्ष उतना आसान नहीं जितना आसान उनके समर्थन कर रहे हैं विधायक के समर्थकों का दावा है कि 36000 से अधिक मतों से पिछले चुनाव जीतने वाली विधायक का नाम तय है राजनीतिक सूत्रों की माने तो कांग्रेस नया चेहरा बदलने जा रही है नए चेहरे की तलाश कर रही है बंद लिफाफे में दो नाम हाईकमान दिल्ली भेजे जाने की जानकारी के बाद असमंजस की स्थिति बनी हुई है खबर है टिकट पाने अंदर ही अंदर रणनीति बनाने का खेल चल रहा है हालांकि सभी वरिष्ठ कांग्रेसी जिन्होंने टिकट की दावेदारी की है उनके समर्थक द्वारा पूरे भरोसे के साथ कहा जा रहा है की टिकट उनके नेता को ही मिलेगा चुनावी साल है लोग भी मस्त चटकारे लगा रहे हैं वैसे चर्चा में कांग्रेस भाजपा ही है कहीं कहीं दबी जबान से आप या जोगी कांग्रेस का भी नाम आ जाता है फिलहाल क्षेत्र में अभी यह चर्चा हर जगह आम है कौन है पंडरिया विधानसभा में कांग्रेस से टिकट का असल हक दार क्षेत्र देख रहा है तौल भी रहा है कौन कितनी क्षमता रखता है
लग गई आचार संहिता राजनीतिक हस्तक्षेप बंद
विधानसभा चुनाव 2023 के लिए आदर्श आचार संहिता सोमवार को लागू कर दी गई दोपहर 12:00 बजे दिल्ली में हुई प्रेस वार्ता के जरिए निर्वाचन आयोग ने छत्तीसगढ़ सहित पांच राज्यों के चुनाव का ऐलान किया छत्तीसगढ़ में दो चरणों में मतदान होना है आचार संहिता लागू होने के साथ ही अधिकारी कर्मचारी अब सरकार के बंदिश में नहीं है सरकारी आयोजन पूरी तरह रोक दिए गए हैं जनता के बीच लोक लुभावने कार्य और वादे अब राजनीतिक दल नहीं कर सकेंगे सरकारी योजना को उल्लेखित करते विज्ञापन होल्डिंग हटा दिए गए हैं चुनाव आयोग के अनुसार 7 नवंबर और 20 नवंबर को चुनावी यज्ञ में वोटो की आहुतियां डालेंगी जिसके बाद प्रदेश में 5 साल के लिए फिर नयी सरकार को काम करने का मौका मिलेगा चुनाव आयोग द्वारा तारीख की घोषणा करते ही जिला निर्वाचन कार्यालय भी सक्रिय हो गया है ।

 

 

Related posts

पंडरिया विधानसभा चुनाव के संभावित उम्मीदवार बिशेसर पटेल का जानिए राजनैतिक सफर

bpnewscg

स्वास्थ्य मंत्री ने विधानसभा में की घोषणा, स्वास्थ्य कर्मियों का खत्म होगा अटैचमेंट

bpnewscg

एकीकृत बाल विकास परियोजना चिल्फी में नियमो की अनदेखी करते हुए किया खरीदी फ्लेक्सी फंड की खरीदी में अनियमितता

bpnewscg

Leave a Comment