BP NEWS CG
कवर्धाबड़ी खबरसमाचारसिटी न्यूज़

कौड़िया में श्रीमदभागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का अयोजन, दूर दूर से कथा सुनने पहुंच रहे हैं श्रद्धालु

कवर्धा , विकासखण्ड सहसपुर लोहारा के कौडिया गांव में परमार परिवार द्वारा आयोजित संगीतमय श्रीमद् भागवत ज्ञान कथा के छठवें दिन व्यास पीठ से पंडित श्री अवधेश प्रसाद पाण्डेय जी महाराज
निवास – ग्राम बाघामुड़ा (विकासखंड – कवर्धा ) ने कंस वध व रुकमणी विवाह के प्रसंगों का चित्रण किया। बताया कि भगवान विष्णु के पृथ्वी लोक में अवतरित होने के प्रमुख कारण थे, जिसमें एक कारण कंस वध भी था।
कंस के अत्याचार से पृथ्वी त्राह त्राह जब करने लगी तब लोग भगवान से गुहार लगाने लगे। तब कृष्ण अवतरित हुए। कंस को यह पता था कि उसका वध श्रीकृष्ण के हाथों ही होना निश्चित है। इसलिए उसने बाल्यावस्था में ही श्रीकृष्ण को अनेक बार मरवाने का प्रयास किया, कई प्रकार के असुरों को अलग अलग वेश धारण करके भेजा गया लेकिन हर प्रयास भगवान के सामने असफल साबित होता रहा। 11 वर्ष की अल्प आयु में कंस ने अपने प्रमुख अकरुर के द्वारा मल्ल युद्ध के बहाने कृष्ण, बलराम को मथुरा बुलवाकर शक्तिशाली योद्धा और पागल हाथियों से कुचलवाकर मारने का प्रयास किया, लेकिन वह सभी श्रीकृष्ण और बलराम के हाथों मारे गए और अंत में श्रीकृष्ण ने अपने मामा कंस का वध कर मथुरा नगरी को कंस के अत्याचारों से मुक्ति दिला दी। कंस वध के बाद श्रीकृष्ण ने अपने माता-पिता वसुदेव और देवकी को जहां कारागार से मुक्त कराया, वही कंस के द्वारा अपने पिता उग्रसेन महाराज को भी बंदी बनाकर कारागार में रखा था, उन्हें भी श्रीकृष्ण ने मुक्त कराकर मथुरा के सिंहासन पर बैठाया।
उन्होंने बताया कि रुकमणी जिन्हें माता लक्ष्मी का अवतार माना जाता है। वह विदर्भ साम्राज्य की पुत्री थी, जो विष्णु रूपी श्रीकृष्ण से विवाह करने को इच्छुक थी। लेकिन रुकमणी जी के पिता व भाई इससे सहमत नहीं थे, जिसके चलते उन्होंने रुकमणी के विवाह में जरासंध और शिशुपाल को भी विवाह के लिए आमंत्रित किया था, जैसे ही यह खबर रुकमणी को पता चली तो उन्होंने दूत के माध्यम से अपने दिल की बात श्रीकृष्ण तक पहुंचाई और काफी संघर्ष हुआ युद्ध के बाद अंततः श्री कृष्ण रुकमणी से विवाह करने में सफल रहे।
आयोजित कथा सुनने दूर दराज से लोग पहुंच रहे हैं । कथा व्यास पंडित। श्री बहुत ही सुंदर कथा वाचन कर रहे हैं। लोग भक्ति भाव में लीन हो कर कथा का रस पान कर रहे हैं।

 

 

 

Click BP NEWS CG LOGO for You tube👇

यूट्यूब के लिए बीपी न्यूज सीजी लोगो पर क्लिक करें👇

Subscribe our channel👇

हमारे चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

 

Related posts

युवाओं को जल्द मिलेगा सीजी पीएससी की निःशुल्क कोचिंग की सुविधा कवर्धा में है उच्च कोटि का जिला गं्रथालय, जहां उपलब्ध है 11 हजार किताबों का विशाल संग्रह कलेक्टर ने जिला ग्रंथालय का अवलोकन किया, ई-लाईब्रेरी में होगी अब वाई-फाई की व्यवस्था

bpnewscg

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष का दायित्व पुनः मिलने से क्षेत्र में हर्ष

bpnewscg

केंद्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए दिशा की बैठक 17 मई को

bpnewscg

Leave a Comment