BP NEWS CG
Breaking Newsकवर्धाबड़ी खबरसमाचारसिटी न्यूज़

कबीरधाम में जल जीवन मिशन योजना का हाल बे हाल , ग्रामिणो को नही मिल रहा लाभ 

कवर्धा, जिले में आज भी अनेक ऐसे गांव व कस्बे है. जहाँ पर लोगों को पीने के लिए शुद्ध पेयजल उपलब्ध नहीं हो पा रहा है. पंडरिया और बोडला विकासखण्ड के वनांचल इलाको में रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा आदीवासी परिवार आज भी कुआ और झिरिया का पानी पीने के लिए उपयोग करते है, क्योंकि दूरस्थ क्षेत्रों में सरकार की योजनाएं अधिकारियों के लापरवाही के कारण नहीं पहुंच पाती हैं. यदि किसी तरह योजनाएं पहुँच भी जाए तो योजना के लिए मिलने वाली शासकीय राशि का बंदरबाट ओहदा के अनुरूप नीचे से ऊपर तक के अधिकारी कर्मचारी हजम कर जाते है. जिसका नतीजा यह होता है कि विभिन्न योजना से संबंधित कार्य आधे अधूरे में बंद हो जाते है. ग्रामीण क्षेत्रों में निवासरत लोगों के लिए सबसे बड़ी परेशानी पानी की होती है. बरसात के मौसम में किसी तरह तो पानी मिल जाता है लेकिन गर्मी के मौसम में आस-पास के कुआ, नदी , तालाब , छोटे नाले सूख जाने के कारण लोगों को लम्बी दूरी तय कर पानी की व्यवस्था अपने परिवार के लिए करनी होती है ।
कबीरधाम जिले में पिछले लगभग तीन सालो से जल जीवन मिशन योजना के तहत घर-घर शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कार्य किए जा रहे है, लेकिन इस योजना में भी आपसी मिलीभगत कर घटिया तरीके से निर्माण कार्य कराए जाने की शिकायते आम हो गई है । इस योजना के तहत गांव-गांव में टंकी का निर्माण कराया जा रहा है, इसके बाद उन टंकी से पानी के लिए पाइप लाईन का विस्तार करते हुए लोगों के घरों तक पानी की सप्लाई की व्यवस्था की जानी है, ताकि लोगों को आसानी से घर बैठे पानी उपलब्ध हो सके ।
निर्माण के बाद भी पानी नहीं
कबीरधाम जिला अंतर्गत अनेक ग्राम पंचायतों में जल जीवन मिशन योजना के तहत टंकी निर्माण करा लिया गया है. साथ ही गांव में निवासरत लोगों के घर में पानी के लिए टोटी भी लगा दी गई है, लेकिन विभागीय लापरवाही के कारण निर्माण कार्य पूरा होने के बाद भी पानी सप्लाई शुरू नहीं हो सकी है । जिसके कारण केंद्र सरकार के इस महती योजना का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है। कुछ गांवों में सोलर पंप लगाया जा चुका है, लेकिन विभागीय की उदासीनता के कारण अधिकांश बंद पडे है । इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि जल जीवन मिशन की योजनाएं का लाभ कितनो को मिल पा रहा होगा ।
मॉनिटरिंग का अभाव
कबीरधाम जिले में जल जीवन मिशन योजना अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यों में विभागीय अधिकारियों के लापरवाही के कारण सही समय पर निरीक्षण नहीं किया जाता । जिसके कारण इस कार्य को कर रहे बिना अनुभव के नए ठेकेदारों के द्वारा कार्य को सही ढंग से नहीं करने के कारण कई स्थानों पर परेशानी हो रही है. यदि तकनीकी अधिकारियों का मार्गदर्शन सही समय पर उन नव सिखिया ठेकेदारों को मिल जाता तो शायद आज कई नलो के टोटियों में से पानी की बूंद निकलने लगती और वनवासियों सहित ग्रामीण इलाकों में निवासरत परिवारों को पानी के लिए इधर उधर भटकना नहीं पड़ता ।

 

Click BP NEWS CG LOGO for You tube👇

यूट्यूब के लिए बीपी न्यूज सीजी लोगो पर क्लिक करें👇

 

Subscribe our channel👇

हमारे चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

 

Related posts

पंडरिया विधायक श्रीमती भावना बोहरा गणतंत्र दिवस पर कवर्धा के मुख्य समारोह में करेंगे ध्वाजारोहण

bpnewscg

MP बोर्ड एग्जाम: 12वीं के बायोलॉजी के पेपर में एक नकलची पकड़ा, 309 परीक्षार्थी रहे गैर हाजिर

cradmin

ठेकेदारों से वसूली के आरोप में श्रम पदाधिकारी तत्काल प्रभाव से निलंबित

bpnewscg

Leave a Comment