BP NEWS CG
Breaking Newsअन्यबड़ी खबरसमाचारसिटी न्यूज़

कार्य स्थल से दूरी बनाकर रहते है मनरेगा कर्मचारी , कार्यों में गुणवत्ता दरकिनार

कवर्धा, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में भ्रष्टाचार चरम सीमा से पार हो रहा है । कबीरधाम जिला में जहा पर भी निर्माण हो रहा है वहा पर अधिनियमों का जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है । बोडला विकासखंड इसमें सबसे आगे है । इसके जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन करने में सक्षम नजर नही आ रहे है । जहा पर भी निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाता हैं वहा पर सर्व प्रथम नागरिक सूचना पटल का निर्माण कर संपूर्ण जानकारी प्रदर्शित करना होता है जिससे कार्य में पारदर्शिता बना रहे लेकिन ऐसा नही हो रहा है । ग्राम पंचायत रोल में नाली निर्माण किया जा रहा है जहा पर मजदूरों सहित ठेकेदार भी अपने आप को मजदूर बताकर निर्माण का मॉनिटरिंग कर जिम्मेदारों का जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहा है ।

नाली निर्माण में अनियमितता

बोडला विकासखंड के वनांचल ग्राम पंचायत रोल में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत पक्की नाली का निर्माण कार्य प्रारंभ है । जिसमे प्रकालन के अनुरूप निर्माण कराने के बजाए ठेकेदार अपने मनमर्जी से करा रहा है । प्रकालन में बेस के लिए अलग गिट्टी का उपयोग करना है और ढलाई में भी अलग लेकिन ठेकेदार ने एक ही प्रकार के गिट्टी का उपयोग साथ अन्य सामग्री भी स्तर हीन का निर्माण में उपयोग किया जा रहा है । जो जांच का विषय है ।

नागरिक सूचना पटल नही

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत कोई भी कार्य प्रारंभ करने के पूर्व नागरिक सूचना पटल का निर्माण किया जाता हैं जिससे निर्माण कार्य से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदर्शित किया जाता है जिससे निर्माण कार्य में पारदर्शिता बना रहे। यदि किसी को निर्माण कार्य में शिकायत दर्ज कराना हो तो नागरिक सूचना पटल में जिला एवम राज्य स्तर के फोन नंबर भी लिखा रहता है लेकिन रोल में कार्य में गुणवत्ता के साथ समझौता किया गया है इसलिए नागरिक सूचना पटल का निर्माण नही किया गया है 

कार्य स्थल से जिम्मेदार गायब

ग्राम पंचायत रोल में पक्की नाली निर्माण कार्य चल रहा है। नाली निर्माण स्थल से जिम्मेदार लोग ही गायब है कार्य स्थल पर ठेकेदार खड़ा होकर प्राक्लन को नजरंदाज कर अपने तरीके से कार्य को अंजाम दिया जा रहा है । रोजगार सहायक, तकनीकी सहायक और अन्य जिम्मेदार कार्य स्थल से दूरी बनाकर रखते है ।

घर बैठे जिम्मेदारी का निर्वाहन

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना का नाम ही जिला में कुछ अलग तरीका से चल रहा है । इस योजना में रोजगार का गारंटी लेते हुए जिम्मेदार लोग घर बैठे फर्जी हाजरी भरकर अपने लोगो को लाभ दिला रहे है साथ ही मूल्यांकन , सत्यापन भी घर पर फाइल मंगाकर करते है । ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के अनुविभागीय अधिकारी न कभी आफिस में बैठते है न कभी कार्यों का निरीक्षण करते है । इनके कार्यकाल में हुए निर्माण कार्यों का बारीकी से पड़ताल करने पर तरह तरह के अनियमितताएं नजर आएंगे ।

Related posts

आप प्रत्याशी लोहारा रियासत के राजा खड़गराज सिंह को मिला आदिवासी समाज का समर्थन

bpnewscg

अन्नपूर्णा और शक्ति स्वरूपा की अवतार है मां शाकम्भरी माता-उपमुख्यमंत्री

bpnewscg

दो दिनों तक होली के रँग में रंगे दिखे उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा

bpnewscg

Leave a Comment